नमस्कार! हमारे न्यूज वेबसाइट डेली झारखण्ड में आपका स्वागत है, खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करें 9939870087. हमारे फेसबुक, ट्विटर को लाइक और फॉलो/शेयर जरूर करें।
BreakingHeadlineबिहार

मणिपुर से सीएम नीतीश के लिए गुड न्‍यूज, चार सीटों पर आगे चल रहा जेडीयू

पटना: पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों में अब कुछ घंटे शेष हैं। गुरुवार की सुबह से मतगणना जारी है। आज दोपहर बाद तक तस्वीर साफ हो जाएगी। इस बीच बिहार के संदर्भ में बड़ी खबर मणिपुर (Manipur) से आ रही है। ताजा रूझानों की बात करें तो मणिपुर की 60 सीटों में से चार पर जनता दल यूनाइटेड (JDU) आगे चल रहा है। जेडीयू का मुख्‍य आधार बिहार में है। बिहार के राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की सरकार में जेडीयू के नीतीश कुमार (Nitish Kumar) मुख्‍यमंत्री हैं।

झारखंड में 1 से 12 कक्षा तक की गर्मी छुट्टियां रद्द…

बिहार की नीतीश सरकार में भारतीय जनता पार्टी (BJP) व जेडीयू एक साथ हैं। हालांकि, मणिपुर में एनडीए के ये दोनों घटक दल अलग-अलग हैं। जेडीयू को राष्‍ट्रीय पार्टी (National Party) का दर्जा दिलाने के लिए मणिपुर में मिले वोट महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। इस लिहाज से यह पार्टी व नीतीश कुमार के लिए गुड न्‍यूज है।

मणिपुर में हैं विधानसभा की 60 सीटें

मणिपुर में विधानसभा की 60 सीटें हैं। बीते चुनाव की बात करें तो इनमें से कांग्रेस ने 28 सीटें जीतीं थीं, लेकिन 21 सीटें जीतने वाली भारतीय जनता पार्टी ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) और नगा पीपुल्स फ्रंट (NPF) जैसे दलों को साथ लेकर सरकार बना ली थी। वर्तमान चुनाव परिणाम आने के बाद भी एनपीपी और एनपीएफ जैसे दल बीजेपी के साथ जा सकते हैं। हालांकि, दोनों दलों ने चुनाव बीजेपी से अलग होकर लड़ा है। राज्‍य में बहुमत का आंकड़ा 31 है।

बीजेपी 15 तो जेडीयू तीन सीटों पर आगे

मणिपुर में जारी मतगणना के ताजा रुझानों में बीजेपी 15 तो कांग्रेस छह सीटों पर आगे है। जेडीयू भी चार सीटों पर आगे चल रहा है। मणिपुर में सरकार बनाने को लेकर जेडीयू का स्‍टैंड क्‍या होगा, इसपर पार्टी प्रवक्‍ता अरविंद निषाद ने कहा कि इसका फैसला मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे।

सावधान: आज घरों से बाहर ना निकलें बिहार और झारखंड के लोग, नक्सली गाड़ियों में लगा रहे आग; पुलिस ने जारी किया अलर्ट

आखिर क्‍या है जेडीयू की रणनीति?

सवाल यह है कि बिहार के बाहर मणिपुर में जेडीयू क्‍यों चुनाव मैदान में कूदी? दरअसल, जेडीयू बिहार के बाहर अपना जनाधार बढ़ाने की को‍शिश में लगी है। इसलिए उसकी नजर पूर्वोत्तर राज्यों पर है। जेडीयू वहां ‘राज्य पार्टी’ का दर्जा पाने के लिए चुनाव लड़ रही है। जेडीयू पहले से ही बिहार और अरुणाचल प्रदेश में ‘राज्य पार्टी’ का दर्जा प्राप्त कर चुकी है। अगर इसे दो और राज्यों में ‘राज्य पार्टी’ का दर्जा मिल जाता है तो वह राष्ट्रीय पार्टी बन जाएगी। चुनाव आयोग से ‘राष्ट्रीय पार्टी’ के रूप में मान्यता प्राप्त करने के लिए तीन शर्तों में से एक के अनुसार उसे चार लोकसभा सीटों के अलावा किसी भी चार या अधिक राज्यों में कम से कम छह फीसद वोटों की भी आवश्यकता है। पिछले विधानसभा चुनावों में जेडीयू ने पहले ही बिहार और अरुणाचल प्रदेश में छह फीसद से अधिक वोट हासिल कर लिए हैं और लोकसभा में बिहार से उसके 16 सदस्य हैं। जेडीयू अगर अगले कुछ सालों में मणिपुर तथा एक और राज्य में छह फीसद वोट हासिल कर लेता है तो वह ‘राष्ट्रीय पार्टी’ की मान्यता पाने की शर्तों को पूरा कर लेगा। इसके लिए बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की नजर साल 2023 में होने जा रहे नागालैंड विधानसभा चुनाव पर भी है। जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्वोत्तर के प्रभारी अफाक अहमद खान ने कहा है कि मणिपुर के बाद पार्टी नागालैंड विधानसभा चुनाव पर फोकस करेगी।

डीजल-पेट्रोल की कीमतों में 30 रुपये तक बढ़ौतरी, इस दिन से बढ़ेंगे रेट……

सलमान खान ने गुपचुप कर ली सोनाक्षी सिन्हा से शादी!

कोमा में पहुंचे Ranveer Singh, कुछ ऐसा हुआ हाल

सावधान: UP में इन लोगों को गोली मारने के दिए गए आदेश

NUCLEAR अटैक से भी बड़ी आपदा सामने, जलकर खाक हो जाएगा ‘धरती का फेफड़ा’

झारखंड सरकार की कैबिनेट बैठक में 35 प्रस्तावों को मिली मंजूरी

स्टूडेंट्स को लगा झटका, नहीं रद्द होंगी CBSE-ICSE और स्टेट बोर्ड की 10वीं और 12वीं की फिजिकल परीक्षाएं

बड़ी खबर: झारखंड में पंचायत चुनाव को हरी झंडी

‘धोनी के संन्‍यास लेने तक सिर्फ कवर के रूप में मुझे इस्‍तेमाल किया गया’, क्रिकेटर ने लगाए गंभीर आरोप

LPG Price Hike: महंगा हो जाएगा खाना पकाना, दोगुनी होने वाली है रसोई गैस की कीमत; जानें कितनी बढ़ेगी कीमत

हर हफ्ते करें इन 6 चीजों का सेवन, तेजी से कम होगा वजन

फ्रिज में रखा रेस्टोरेंट का खाना खाने के बाद हुआ बीमार, काटने पड़े पैर, आप भी रहें सतर्क!

SBI कस्टमर्स फटाफट निपटाएं ये काम, वरना रुक सकते हैं बैंक से जुड़े कामकाज!

CBSE-ICSE और स्टेट बोर्ड की 10वीं और 12वीं की फिजिकल परीक्षाएं रद्द…

दुनिया में आ रही कोरोना जैसी एक और महामारी, बिल गेट्स की चेतावनी ने बढ़ाई टेंशन

कभी 6 अंकों का होता था ATM का पिन, फिर क्यों घटाकर कर दिए गए 4 नंबर ?

आम आदमी को लगने वाला है बड़ा झटका, भारत में Petrol Diesel 5-6 रुपये लीटर महंगा!

DJ हुआ बंद तो घोड़ी पर बैठ कर थाने पहुंचा दूल्हा और पूरी बारात इसके बाद…

Tata-Birla नहीं, ये है हिंदुस्तान की सबसे पुरानी कंपनी, जहाज बनाने से शुरुआत

Paytm ने आम आदमी से लेकर बड़े अमीरों को दिया जोर का झटका; जानें क्या हुआ?

Smartphone से लेकर Refrigerator तक, जानिए 1 अप्रैल से क्या होगा सस्ता और महंगा

रिश्वत लेने के आरोपी सब इंस्पेक्टर को पकड़ने 1 KM तक दौड़ी एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button