नमस्कार! हमारे न्यूज वेबसाइट डेली झारखण्ड में आपका स्वागत है, खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करें 9709180001. हमारे फेसबुक, ट्विटर को लाइक और फॉलो/शेयर जरूर करें।
BreakingHeadline

झारखंड में बंद की मांग, कुर्मी संगठनों ने की एसटी सूची में शामिल करने की मांग

कुर्मी विकास मंच के प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी टंडवा को एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कुर्मी जाति को अनुसूचित जनजाति की सूची.

 

 
झारखंड में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) का दर्जा प्राप्त कुर्मी समुदाय अनुसूचित जनजाति (एसटी) की सूची में शामिल होना चाहता है। हालांकि, सरना (पारंपरिक आदिवासी आस्था के अनुयायी) उनकी मांग का विरोध कर रहे हैं, उनका कहना है कि उनके शामिल होने से दोनों समुदायों के बीच दरार पैदा करने के अलावा आरक्षित कोटे में जगह कम हो जाएगी।झारखंड में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) का दर्जा प्राप्त कुर्मी समुदाय अनुसूचित जनजाति (एसटी) की सूची में शामिल होना चाहता है। हालांकि, सरना (पारंपरिक आदिवासी आस्था के अनुयायी) उनकी मांग का विरोध कर रहे हैं, उनका कहना है कि उनके शामिल होने से दोनों समुदायों के बीच दरार पैदा करने के अलावा आरक्षित कोटे में जगह कम हो जाएगी।

पिपरवार, प्रतिनिधि। कुर्मी विकास मंच के प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी टंडवा को  एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कुर्मी जाति को अनुसूचित जनजाति की सूची में सूचीबद्ध करने की मांग की गई। इस अवसर पर टंडवा प्रखंड के सैकड़ों कुर्मी समाज के लोग उपस्थित थे। ज्ञापन सौंपने के बाद समाज के सभी सदस्यों ने एक स्वर में कहा कि हम अपने हक और अधिकार की लड़ाई के लिए पिछले कई वर्षों से आंदोलन कर रहे हैं। जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होती है तब तक आगे भी आंदोलन करते रहेंगे। इस अवसर पर नागेश्वर महतो, बसंत नारायण महतो, विजय महतो, मणिलाल महतो, टिकेश्वर महतो, जोधन महतो, प्रीतम महतो, चिंतामणि महतो, लालेश्वर महतो पुरुष उपस्थित थे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button