नमस्कार! हमारे न्यूज वेबसाइट डेली झारखण्ड में आपका स्वागत है, खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करें 9939870087. हमारे फेसबुक, ट्विटर को लाइक और फॉलो/शेयर जरूर करें।
झारखण्ड

देवघर में संस्कृत विवि स्थापना का रास्ता साफ

विधानसभा मेंविश्वविद्यालय संशोधन विधेयक पारित

रांची,25जुलाई। देवघर में बाबा बैद्यनाथ धाम संस्कृत विश्वविद्यालय स्थापना का रास्ता साफ हो गया है। इस आशय को लेकर गुरुवार को सभा ने झारखंड राज्य विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2019 को पारित कर दिया।

शिक्षामंत्री डॉ. नीरा यादव ने विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक के संबंध में बताया कि संस्कृत विश्व की सबसे पुरानी भाषा है, कई वैदिक धर्मग्रंथ संस्कृत में ही है,जबकि बौद्ध और जैन धर्म के भी कई ग्रंथ संस्कृत भाषा में है।उन्होंने कहा कि राज्य सरकार संस्कृत भाषा को संरक्षित करने और इसे बढ़ावा देने के लिए कृतसंकल्पित है। डॉक्टर नीरा यादव ने बताया कि अब तक राज्य के सभी डिग्री और इंटर कॉलेजों के लिए मान्यता देने का काम विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग से होता था, अब देवघर में बाबा बैद्यनाथधाम संस्कृत विश्वविद्यालय की स्थापना होगी , यह सावन मास में राज्यवासियों के लिए तोहफा है। विधेयक पारित होने के बाद पक्ष-विपक्ष के कई सदस्यों ने सूचना के माध्यम से अपने क्षेत्र की समस्याओं से सदन को अवगत कराया। संसदीय कार्यमंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने सभी सूचनाओं को ग्रहण कर उनपर कार्रवाई का भरोसा दिलाया। जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने सभा की कार्यवाही शुक्रवार पूर्वाह्न दस बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button