नमस्कार! हमारे न्यूज वेबसाइट डेली झारखण्ड में आपका स्वागत है, खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करें 9709180001. हमारे फेसबुक, ट्विटर को लाइक और फॉलो/शेयर जरूर करें।
BreakingHeadlineझारखण्ड

बड़ा हादसा: धनबाद के बराकर नदी में नाव पलटने से 16 डूबे, 4 लोगों को रेस्क्यू कर अस्पताल भेजा गया

धनबाद/ जामताड़ा। झारखंड के जामताड़ा जिले में बड़ा हादसा हुआ है। यहां बराकर नदी में यात्रियों से भरी नाव पलटने से 16 लोग डूब गए हैं। हादसा धनबाद के बारबेंदिया और जामताड़ा जिले के वीरगांव-श्यामपुर घाट के बीच हुआ है। नाव पर सवार लोग निरसा से जामताड़ा जा रहे थे। पुलिस-प्रशासन की ओर से राहत एवं बचाव अभियान जारी है। डूबने वालों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि नाव में करीब 18 लोग सवार थे। जामताड़ा के पुलिस अधीक्षक दीपक सिन्हा और एसडीएम संजय पांडेय मौके पर पहुंच गये हैं।

Big Breaking: झारखंड सरकार की कैबिनेट बैठक में 35 प्रस्तावों को मिली मंजूरी

स्टूडेंट्स को लगा झटका, नहीं रद्द होंगी CBSE-ICSE और स्टेट बोर्ड की 10वीं और 12वीं की फिजिकल परीक्षाएं

बड़ी खबर: झारखंड में पंचायत चुनाव को हरी झंडी

उपायुक्त फैज अक अहमद मुमताज ने बया कि कि एनडीआरएफ की टीम मंगाई जा रही है। जल्द ही पानी में डूबे लोगों को बचाकर कर बाहर निकाला जाएगा।

उधर, जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी ने कहा कि नाव पलटने से कई लोगों के डूबने की आशंका है, जिसकी प्रशासनिक स्तर पर पुष्टि नहीं हुई है।

बारबेंदिया पुल के नजदीक हुआ हादसाः हादसा स्थल बराकर नदी में बारबेंदिया पुल के नजीदक हुआ है। झारखंड के धनबाद के बारबेंदिया और जामताड़ा जिले बीच बड़ी संख्या में लोग नाव से आना-जाना करते हैं। साढ़े चार बजे के करीब निरसा के बांरबेंदिया घाट से नाव पर सवार होकर लोग जामताड़ा की तरफ जा रहे थे। बीच नदी में नाव पलट गई। इससे नाव पर सवार लोग डूब गए।

आंधी-पानी के कारण हुआ हादसा

नाव पलटने के लिए आंधी-पानी को कारण बताया जा रहा है। गुरुवार की शाम करीब पांच बजे तेज हवा और गरज के साथ बारिश शुरू हुई है। जब तेज हवा के साथ बारिश शुरू हुई तो नाव बीच नदी में थी। तेज हवा की चपेट में नाव आकर पलट गई।

अब तक किसी का शव बरामद नहीं

जामताड़ा-धनबाद सीमा पर स्थित बरबेंदिया पुल के पास नौका डूबने से 16 लोगों के लापता होने की खबर है। समाचार लिखे जाने तक किसी भी व्यक्ति का शव बरामद नहीं हो सका है। बताया जाता है कि नौका पर ज्यादातर जामताड़ा जिले के लोग सवार थे। सभी धनबाद के मजदूरी कर व अन्य जरूरी काम के बाद निरसा घाट पर इस नौका पर सवार हुए थे।

उल्लेखनीय है कि वीरग्राम व बारबेंदिया के बीच साल 2007 में 36 करोड़ 87 लाख रुपये की प्राक्कलित राशि से पुल निर्माण का कार्य शुरू हुआ था लेकिन 18 अगस्त 2009 को पुल के 56 पीलर में से पांच पीलर पानी के तेज बहाव में बह गए थे.। इसके बाद यह पुल अधूरा रह गया।

‘धोनी के संन्‍यास लेने तक सिर्फ कवर के रूप में मुझे इस्‍तेमाल किया गया’, क्रिकेटर ने लगाए गंभीर आरोप

LPG Price Hike: महंगा हो जाएगा खाना पकाना, दोगुनी होने वाली है रसोई गैस की कीमत; जानें कितनी बढ़ेगी कीमत

हर हफ्ते करें इन 6 चीजों का सेवन, तेजी से कम होगा वजन

फ्रिज में रखा रेस्टोरेंट का खाना खाने के बाद हुआ बीमार, काटने पड़े पैर, आप भी रहें सतर्क!

SBI कस्टमर्स फटाफट निपटाएं ये काम, वरना रुक सकते हैं बैंक से जुड़े कामकाज!

CBSE-ICSE और स्टेट बोर्ड की 10वीं और 12वीं की फिजिकल परीक्षाएं रद्द…

दुनिया में आ रही कोरोना जैसी एक और महामारी, बिल गेट्स की चेतावनी ने बढ़ाई टेंशन

कभी 6 अंकों का होता था ATM का पिन, फिर क्यों घटाकर कर दिए गए 4 नंबर ?

झारखंड में जारी हुआ येलो अलर्ट, आने वाले इन दो दिनों में होगी बारिश

जरूरी खबर- 28 फरवरी से पहले कर ले ये काम वरना होगी बड़ी परेशानी

आम आदमी को लगने वाला है बड़ा झटका, भारत में Petrol Diesel 5-6 रुपये लीटर महंगा!

DJ हुआ बंद तो घोड़ी पर बैठ कर थाने पहुंचा दूल्हा और पूरी बारात इसके बाद…

23 से 27 फरवरी तक सितारों का उलटफेर, शनि समेत 4 ग्रह बदलेंगे राशि, जानें-किन राशि पर भारी रहेगी ग्रहों की चाल

Tata-Birla नहीं, ये है हिंदुस्तान की सबसे पुरानी कंपनी, जहाज बनाने से शुरुआत

Paytm ने आम आदमी से लेकर बड़े अमीरों को दिया जोर का झटका; जानें क्या हुआ?

17 फरवरी से शुरू फाल्गुन माह, देखें व्रत-त्योहार की लिस्ट

Smartphone से लेकर Refrigerator तक, जानिए 1 अप्रैल से क्या होगा सस्ता और महंगा

रिश्वत लेने के आरोपी सब इंस्पेक्टर को पकड़ने 1 KM तक दौड़ी एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button