नमस्कार! हमारे न्यूज वेबसाइट डेली झारखण्ड में आपका स्वागत है, खबर और विज्ञापन के लिए संपर्क करें 9939870087. हमारे फेसबुक, ट्विटर को लाइक और फॉलो/शेयर जरूर करें।
BreakingHeadlineदेशलाइफस्टाइल

दुनिया में आ रही कोरोना जैसी एक और महामारी, बिल गेट्स की चेतावनी ने बढ़ाई टेंशन

वॉशिंगटन। दुनिया के शीर्ष अरबपतियों में शुमार माइक्रोसाफ्ट के संस्‍थापक बिल गेट्स ने चेतावनी दी है कि दुन‍िया में बहुत जल्‍द ही कोरोना जैसी एक और महामारी दस्‍तक दे देगी। बिल गेट्स ने यह भी माना कि कोविड-19 से गंभीर रूप से बीमार होने का खतरा नाटकीय रूप से कम हो गया है। उन्‍होंने कहा कि ऐसा इ‍सलिए हो रहा है, क्‍योंकि लोगों में इस वायरस के प्रति प्रतिरोधक क्षमता पैदा होती जा रही है।

इसे भी पढ़ें-  नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार रवीश, प्रधानमंत्री ने निधन पर जताया दुख

इसे भी पढ़ें- ‘हेमामालिनी’ की कीटनाशक पीने से मौत

जरूरी खबर- 28 फरवरी से पहले कर ले ये काम वरना होगी बड़ी परेशानी

इसे भी पढ़ें- आम आदमी को लगने वाला है बड़ा झटका, भारत में Petrol Diesel 5-6 रुपये लीटर महंगा!

इसे भी पढ़ें-DJ हुआ बंद तो घोड़ी पर बैठ कर थाने पहुंचा दूल्हा और पूरी बारात इसके बाद…

इसे भी पढ़ें-23 से 27 फरवरी तक सितारों का उलटफेर, शनि समेत 4 ग्रह बदलेंगे राशि, जानें-किन राशि पर भारी रहेगी ग्रहों की चाल

इसे भी पढ़ें-Tata-Birla नहीं, ये है हिंदुस्तान की सबसे पुरानी कंपनी, जहाज बनाने से शुरुआत

इसे भी पढ़ें-Paytm ने आम आदमी से लेकर बड़े अमीरों को दिया जोर का झटका; जानें क्या हुआ?

इसे भी पढ़ें-17 फरवरी से शुरू फाल्गुन माह, देखें व्रत-त्योहार की लिस्ट

इसे भी पढ़ें-Smartphone से लेकर Refrigerator तक, जानिए 1 अप्रैल से क्या होगा सस्ता और महंगा

इसे भी देखें- रिश्वत लेने के आरोपी सब इंस्पेक्टर को पकड़ने 1 KM तक दौड़ी एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम

इसे भी पढ़ें- ‘पापा आप के राज में कोई खुश नहीं रह सकता’…. लिख 11वीं मंजिल से कूदी फैशन डिजाइनर

 

सीएनबीसी को दिए इंटरव्‍यू में बिल गेट्स ने कहा कि भविष्‍य में आने वाली महामारी कोरोना वायरस परिवार के एक अलग रोगाणु से आ सकती है। हालांकि उन्‍होंने आशा जताई कि मेडिकल तकनीक में आए विकास की मदद से दुनिया इससे बेहतर तरीके निपट सकती है। हालांकि उन्‍होंने यह भी कहा कि इसके लिए अभी से निवेश करना होगा। माइक्रोसाफ्ट के संस्‍थापक ने कहा कि कोरोना पिछले दो साल हमारे बीच है और इसका खराब असर अब कम हो रहा है।

‘वैश्विक आबादी में कुछ स्‍तर तक की इम्‍युनिटी पैदा हुई’

उन्‍होंने कहा कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्‍योंकि वैश्विक आबादी में कुछ स्‍तर तक की इम्‍युनिटी पैदा हो गई है। गेट्स ने कहा कि ताजा ओमीक्रोन वेरिएंट ने दिखा दिया है कि इसकी गंभीरता भी अब कम हो गई है। उन्‍होंने कहा कि जब वायरस फैलता है तो वह अपनी खुद की इम्‍युनिटी पैदा करता है। यह आदत विश्‍व समुदाय के महामारी निकलने में वैक्‍सीन की तुलना में ज्‍यादा कारगर साबित हुई है।

बता दें कि भारत में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं लेकिन ओमीक्रोन के सब-वेरिएंट BA.2 ने चिंता बढ़ा दी है। कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रोन का सब-वेरिएंट BA.2 मूल वेरिएंट से भी ज्यादा तेजी से फैलने वाला है। अलग-अलग हुई स्टडी में यह बात सामने आई है। साथ ही स्टडी में इस बात का भी पता चला है कि ओमीक्रोन सब वेरिएंट BA.2 डेल्टा से भी खतरनाक हो सकता है। यह कोरोना की गंभीर बीमारी का कारण बन सकता है। महामारी विज्ञानी एरिक फेंग ने कहा है कि इस वेरिएंट ने चिंता बढ़ा दी है।

क्यों है बुरी खबर, BA.2 कितना घातक

सब वेरिएंट BA.2 को स्टील्थ ओमीक्रोन के रूप में भी जाना जाता है। इसके बारे में तीन महत्वपूर्ण बातें हैं, जिन्हें जापानी टीम ने पहचाना है। BA.2 गंभीर बीमारी पैदा करने में सक्षम है। इस पर हुई स्टडी को प्रीप्रिंट रिपोजिटरी BioRxiv पर पोस्ट किया गया है, हालांकि, इसकी अभी समीक्षा की जानी बाकी है। शोधकर्ताओं ने कहा कि BA.2 को Omicron सब वेरिएंट के रूप में जाना जाता है, लेकिन इसका जीनोम सिक्वेंसिंग BA.1 से काफी अलग है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button